वेंकैया नायडू ने पाकिस्‍तान को चेताया, कहा – 1971 की जंग को मत भूलो

114

नई दिल्‍ली: पाकिस्तान की ओर से बिना उकसावे की गोलीबारी में पिछले एक हफ़्ते में पाकिस्तान से लगी अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर 6 भारतीय जवान शहीद हुए हैं. शुक्रवार को जम्मू के सुंदरबनी सेक्टर में जयद्रथ सिंह पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद हो गए थे. इस बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री और अब उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार वेंकैया नायडू ने पाकिस्तान को बाज आने की नसीहत देते हुए कहा है कि वो 1971 की जंग को न भूले. 13 दिन तक चली उस जंग में पूर्वी पाकिस्तान आज़ाद हो गया था जिससे एक नए मुल्क बांग्लादेश का उदय हुआ. वेंकैया नायडू का ये बयान दिल्ली में हो रही कारगिल पराक्रम परेड के दौरान आया है जो कारगिल के शहीदों की याद में हर साल होती है.

उन्‍होंने कहा, पाकिस्‍तान को याद रखना चाहिए कि कश्‍मीर भारत का अभिन्‍न अंग है. भारत किसी को भी कश्‍मरी की एक इंच जमीन भी नहीं लेने देगा.’ उन्‍होंने कहा, भारत एक शांति पसंद और अहिंसावादी देश रहा है. हम अपने पड़ोसी देशों से अच्‍छे रिश्‍ते चाहते हैं लेकिन उनको भी ऐसा ही करना चाहिए. हमारे पड़ोसी को समझना चाहिए कि आतंक का वित्तपोषण करने और उसे बढ़ावा देने से कोई लाभ नहीं होने वाला. उन्‍हें याद रखना चाहिए कि 1971 में क्‍या हुआ था.’