सऊदी में भारतीय कामगारों के लिए जारी हुई नई गाइडलाइन

124

रियाद: मुस्लिम बहुल देश सऊदी अरब में नौकरी तलाश करने वाले भारतीय कामगारों के लिए सरकार ने दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जिसमें लोगों को बताया गया है कि उन्हें क्या करना है और क्या नहीं करना है।

इसमें सरकार ने कहा है कि सऊदी अरब में नौकरी तलाश रहा कोई भी शख्स अपने मोबाइल फोन और लैपटॉप में अश्लील सामग्री, काला जादू जैसा कुछ ना रखे और इस देश में ऐसा कुछ भी अपने साथ ना लाए जो वहां निषेध या गैरकानूनी है। बता दें कि सऊदी अरब में जादू-टोने पर पूरी तरह से प्रतिबंध है।अगर किसी मामले में आरोप सिद्ध हो जाता है तो दोषी को मौत की सजा तक देने का प्रावधान है। यहां पोर्क, पान मसाला, नार्कोटिक दवाएं, इस्लाम के अलावा किसी और धर्म का पाठ करने की मनाही है।

गौरतलब है कि सऊदी अरब में नौकरी करने के मामले में सबसे ज्यादा संख्या भारतीयों की है। यहां करीब 30लाख भारतीय नौकरी की तलाश के लिए पहुंचे हैं। आमतौर पर भारतीय कामगार इनपर ध्यान नहीं देते जिससे उन्हें सऊदी में खासी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वहीं सरकार ने भर्ती एजेंटों को भी इसके लिए चेतावनी दी है, जो कई तरह से लोगों को धोखा दे सकते हैं। जैसे उनके अनुबंध या फीस ना बढ़ाने के मामले में झूठ बोलते हैं। दूसरी तरफ नए नियम के अनुसार अब कोई भी भर्ती एजेंट सर्विस चार्ज के रूप में किसी से भी 20 हजार रुपए से ज्यादा फीस नहीं ले सकेगा।