MCD एकीकरण पर राजनीति तेज, कांग्रेस-AAP की बीजेपी को नसीहत

115

दिल्ली में तीनों नगर निगम के एकीकरण की मांग को लेकर राजनीति तेज़ होती जा रही है. दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी की मांग को गलत ठहराते हुए कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने ‘एक एमसीडी’ के नारे को पूरी तरह से नकार दिया है. बीजेपी को घेरने के लिए कांग्रेस और ‘आप’ नेता सुर से सुर मिलाते नज़र आ रहे हैं.

दिल्ली के तीनों नगर निगमों को एक करने के सवाल पर कांग्रेस नेता अजय मकान ने कहा कि “देश के अंदर बहुत सी छोटी-छोटी कॉर्पोरेशन हैं. दिल्ली में जब छोटी सी नई दिल्ली पालिका चल सकती है तो एमसीडी को क्या दिक्कत है. उन्होंने कहा कि एमसीडी में भ्रष्टाचार के लिए पार्किंग माफिया है, विज्ञापन माफिया है, टोल टैक्स चोरी होती है. एकीकरण का बहाना बनाने के बजाय बीजेपी को एमसीडी में भ्रष्टाचार बंद करने की ज़रूरत है.” कांग्रेस के मुताबिक बीजेपी असल मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए एकीकरण की मांग कर रही है.

वहीं आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने सीधे मनोज तिवारी पर हमला करते हुए कहा कि “एमसीडी में बैठे बीजेपी के पार्षदों ने काम करना बंद कर दिया है और एमसीडी को लूट का अड्डा बना दिया गया है. जबतक भ्रष्टाचार है, एमसीडी को एक करने से कोई फायदा नहीं होगा. मनोज तिवारी को समझना चाहिए कि निगमों को 3 या 1 करने से हालात ठीक नही होंगे. आम आदमी पार्टी ने मनोज तिवारी से सवाल पूछा है कि चुनाव से पहले 3 महीने में दिल्ली का कूड़ा साफ करने का वादा किया था लेकिन अभी तक ऐसा क्यों नही हुआ है?