जब कराची से ‘दाऊद-2’ ने दी अंजलि दमानिया को धमकी…

66

मुंबई: सामजिक कार्यकर्ता और आम आदमी पार्टी की पूर्व नेताअंजलि दमानिया को शनिवार रात तकरीबन सवा बारह बजे के आसपास कराची के एक लैंडलाइन नंबर से फ़ोन आया. फ़ोन करने वाले ने अपना नाम बताए बिना अंजलि दमानिया को भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से के खिलाफ दर्ज सारे मामलों को वापस लेने के लिए कहा. जब अंजलि दमानिया ने फ़ोन करने वाले से उसका नाम पूछा तो सामने वाले ने अपना नाम बताने से मना कर दिया और साथ ही उसने उनके परिवार को नुकसान पहुंचाने की धमकी भी दी. आपको बता दें की आम आदमी पार्टी की पूर्व नेता अंजलि दमानिया महाराष्ट्र में भ्रष्टाचार के खिलाफ लगातार लड़ती रही हैं और बीजेपी नेता एकनाथ खड़से के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का एक मामला भी लड़ रही हैं जिसकी अगली सुनवाई 25 सितम्बर को है.

एनडीटीवी इंडिया से बातचीत करते हुए अंजलि दमानिया ने बताया कि फ़ोन पर धमकी मिलने के बाद उन्होंने नंबर की जांच की तो पता चला कि धमकी पकिस्तान के कराची से दी गयी है और वह नंबर दाऊद-2 के नाम से रजिस्टर्ड है. दमानिया ने बाद में इसकी जानकारी मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को दी जिन्होंने पूरी सहायता करने और सही तरीके से जांच करने का भरोसा दिलाया. अंजलि दमानिया रविवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह से भी मिलने वालीं हैं.

एनडीटीवी इंडिया से बातचीत करते हुए दमानिया ने बताया कि वो किसी से भी सुरक्षा देने की मांग नहीं करने वाली हैं लेकिन जो भी निर्णय सरकार द्वारा लिया जाएगा वो उन्हें मंज़ूर होगा. दमानिया ने यह भी बताया कि उनके जैसे ऐसे कई लोग हैं जो भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज़ उठा रहे हैं लेकिन उन सबकी आवाज़ को दबाने की कोशिश की जा रही है.

आपको बता दें की यह पहली बार नहीं है जब अंजलि दमानिया को धमकी मिली है. इससे पहले भी उन्‍हें सिंचाई घोटाले को उजागर करने पर धमकी मिली थी जिसके बाद उन्होंने धमकी देने वालों के खिलाफ एक एफआईआर भी दर्ज करवाई थी.