मॉल संचालक पर लगा मनमानी का आरोप, लोगों ने मचाया हंगामा

66

समस्तीपुर : शहर के समस्तीपुर-ताजपुर रोड स्थित भोला टॉकिज चौक के पास दो दिनों पूर्व ही उद्घाटित मॉल में आज बुधवार की दोपहर लोगो ने जमकर हंगामा किया. इतना ही नहीं हंगामा करने वाले लोगों ने मॉल संचालक पर मनमानी का आरोप लगाकर मॉल के समक्ष समस्तीपुर-ताजपुर सड़क को भी काफी देर तक जाम रखा. बाद में प्रशासन एवं पुलिस के आश्वासन पर जाम समाप्त किया गया. बताया गया है कि दो दिनों पूर्व ही “ बाजार इंडिया ” नामक एक मॉल का उद्घाटन नवनिर्मित एक भवन में किया गया है. उद्घाटन के दिन ही मॉल में खरीदारी करने वाले एक किसी ग्राहक ने अपने पास का बैग काउंटर पर जमा किया. ग्राहक को समान जमा करने का रसीद भी दिया गया. जब वह खरीदारी कर काउंटर पर आया तो उसने रसीद देकर जमा किये गये बैग की मांग की.

 इसपर काउंटर पर बैठे गार्ड ने समान जमा करने की बात को झूठा बताते हुये समान नहीं दिया. बात में मॉल के कुछ कर्मचारी उस ग्राहक को यह आश्वासन दिया कि आप दो दिनों के बाद आवें. समान खोजकर आपको दे दिया जायेगा. आज जब वह ग्राहक अपना सामान लेने आया तो उसे न तो समान मिला और उलटे उसे झूठा साबित करने पर मॉल में कार्यरत सभी कर्मी एक जुट हो गये. बताया गया है कि ग्राहक का कहना था कि बैग में 40 हजार रूपये के अलावा एक लैपटॉप एवं कुछ आवश्यक कागजात थे. बैग नहीं मिलने पर ग्राहक ने अपने लोगों के साथ मॉल के अंदर ही हंगामा मचाने लगा.

इतना ही नहीं ग्राहक के समर्थन में काफी स्थानीय लोग भी जुट गये एवं सभी ने समस्तीपुर-ताजपुर सड़क को मॉल के सामने जाम कर दिया. शहर का मुख्य मार्ग होने के कारण दोनो तरफ गाड़ियों की लंबी कतारे लग गयी. पूरे शहर में ट्राफिक व्यवस्था भी चरमरा गयी. सूचना पाकर प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारी घटना स्थल पर पहुंचे और इस संबंध में जांच-पड़ताल कर आवश्यक कार्रवाई करने का जब आश्वासन दिया है तो जाम समाप्त किया गया. इस संबंध में जब मॉल के किसी भी जिम्मेदार आदमी से उनका पक्ष लेने का प्रयास किया गया तो किसी ने भी इस संबंध में मुंह नहीं खोला.  इधर, मॉल के आस-पास के दूकानदार एवं स्थानीय लोगों का आरोप है कि एक तो पहले से ही इस जगह पर रेलवे गुमटी होने के कारण  जाम की  समस्या बनी रहती थी. अब जब से मॉल खुला है तो सुबह से लेकर देर शाम तक लगातार जाम की समस्या बनी रहती है. इससे आम लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.