लॉकहीड मार्टिन ने वायुसेना की जरूरतों के हिसाब से भारत में लड़ाकू विमान बनाने का दिया प्रस्ताव

43

वाशिंगटन: रक्षा क्षेत्र की अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने अपने एफ-16 (रिपीट) एफ-16 लड़ाकू विमान का उत्पादन भारत में उसकी वायुसेना की जरूरतों के अनुरूप करने का प्रस्ताव रखा है. कंपनी के उपाध्यक्ष (रणनीति एवं कारोबार विकास) विवेक लाल ने कहा, ‘हमारी योजना अंतरराष्ट्रीय युद्धक विमान विनिर्माण क्षेत्र के शब्दकोष में दो नये शब्द ‘भारत’ और ‘विशेष’ जोड़ने की है.

उन्होंने कहा, ‘भारत को ध्यान में रखकर भारत में लड़ाकू विमान का उत्पादन विशिष्ट होगा, कुछ ऐसा जो अभी तक किसी भी लड़ाकू विमान निर्माता ने प्रस्तूत नहीं किया होगा.’ लाल ने कहा कि भारत केंद्रित लड़ाकू विमान के कार्यक्रम का आकार तथा इसकी संभावना व सफलता भारतीय उद्योग को अप्रत्याशित विनिर्माण का फायदा उठाने का मौका देगा. उन्होंने कहा कि इससे भारतीय उद्योग को विश्व के सबसे बड़े लड़ाकू विमान नेटवर्क से जुड़ने का मौका मिलेगा.

लाल ने कहा, ‘हम एसेंबली लाइन से कहीं अधिक बनाने को इच्छुक हैं.’ लाल ने दावा किया कि चौथी पीढ़ी का लड़ाकू विमान बनाने वाली कोई भी कंपनी लॉकहीड के युद्धक अनुभव तथा परिचालन दक्षता के आस-पास नहीं है। उन्होंने कहा, ‘भारत को जिस लड़ाकू विमान की पेशकश की जा रही है वह सर्वश्रेष्ठ लड़ाकू विमान है.’ उन्होंने कहा कि एफ-16 (रिपीट) एफ-16 के तीनों संस्करण एक इंजन वाले हैं. लाल ने कहा कि भारत केंद्रित प्रस्तावित परियोजना में इस्तेमाल की जाने वाली अधिकांश प्रणालियां एफ-22 और एफ-35 से सीखी गयी बातों पर आधारित होंगी.