जेपी इन्फ्रा के अधिग्रहण की रेस में लो इस प्रोफाइल शख्स ने अडाणी, कोटक जैसे दिग्गजों को पछाड़ा

39

सुरक्षा ऐसेट रीकंस्ट्रक्शन कंपनी के सुधीर वालिया जेपी इन्फ्राटेक का अधिग्रहण करने की होड़ में अचानक सबसे आगे निकल गए। वालिया सन फार्मा के प्रमोटर दिलीप सांघवी के रिश्तेदार और कंपनी में डायरेक्टर हैं। जेपी के लिए इस लो-प्रोफाइल बिजनसमैन का ऑफर मौजूदा वैल्युएशन के आधार पर करीब 7,000 करोड़ रुपये का है।

एक सूत्र ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि यह अडानी ग्रुप से मिली 5,500 करोड़ रुपये की बोली से बेहतर है। माना जा रहा है कि अडानी ग्रुप ने ऐसे कठिन शर्तें रख दीं जो बैंकों के लिए स्वीकार्य नहीं हैं। कोटक रीयल्टी और क्यूब हाइवेज के कंसोर्शियम ने जेपी के लिए 8,000 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी, लेकिन यह हाइवे ऑपरेशंस को रियल एस्टेट प्रॉजेक्ट से अलग करना चाहती है। एक सूत्र ने बताया, ‘वालिया का ऑफर बहुत ज्यादा लचीला है।’ उसने बताया कि विजेता के नाम पर आखिरी मुहर लगना अभी बाकी है।