इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर फिर से समाजवादी छात्र सभा का कब्जा

102

नई दिल्ली: इलाहाबाद विश्वविद्यालय (Allahabad University Election 2018) के छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर फिर से समाजवादी छात्र सभा का कब्जा हो गया है. समाजवादी पार्टी की छात्र इकाई- समाजवादी छात्र सभा (सछास) के उदय प्रकाश यादव ने 3,698 मतों से जीत हासिल की. शुक्रवार देर रात जारी चुनाव परिणाम के मुताबिक, उपाध्यक्ष पद पर एनएसयूआई के अखिलेश यादव ने 2157 मतों से जीत हासिल की, जबकि महामंत्री का पद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के खाते में आया और इस पद पर शिवम सिंह 2823 मतों से विजयी रहे. इसी तरह, संयुक्त सचिव पद पर समाजवादी छात्र सभा के सत्यम सिंह सनी 3199 मतों के साथ विजयी रहे, जबकि सांस्कृतिक सचिव पद पर नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के आदित्य सिंह ने 1832 मतों के साथ जीत हासिल की.

शुक्रवार को हुए इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव (Allahabad University Election) में मतदान का प्रतिशत 48.5 रहा. विश्वविद्यालय से संबद्ध अन्य महाविद्यालयों में सीएमपी डिग्री कॉलेज में अध्यक्ष पद पर आशुतोष त्रिपाठी, एडीसी में अध्यक्ष पद पर अविनाश शुक्ला, ईश्वर शरण डिग्री कॉलेज में अध्यक्ष पद पर राकेश यादव और श्यामा प्रसाद मुखर्जी कॉलेज में अध्यक्ष पद पर ऋतुराज सिंह ने जीत हासिल की. इस बार के चुनाव की खास बात यह रही कि इस चुनाव में सभी प्रमुख पैनल के उम्मीदवार ने जीत हासिल की है हालांकि पिछली बार की तुलना में सछास का प्रतिनिधित्व घटा है. पिछले वर्ष इलाहाबाद विश्वविद्यालय (Allahabad University) छात्रसंघ चुनाव में छात्र सभा के पैनल से पांच उम्मीदवार मैदान में थे जिसमें से अध्यक्ष समेत चार प्रत्याशियों ने जीत हासिल की थी.

पिछले चुनाव में अध्यक्ष पद पर समाजवादी छात्र सभा के अवनीश कुमार यादव, उपाध्यक्ष पद पर चंद्रशेखर चौधरी, संयुक्त सचिव पद पर भरत सिंह और सांस्कृतिक सचिव पद पर अवधेश कुमार पटेल ने जीत हासिल की थी. इस बीच, चुनावी नतीजे घोषित होने के बाद हारने वाले प्रत्याशियों के समर्थक छात्रों के एक गुट ने हॉलैंड हॉल हॉस्टल के पांच कमरों में आग लगा दी, जिसमें पूर्व अध्यक्ष अवनीश यादव और नवनिर्वाचित अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव का भी कमरा शामिल है.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नितिन तिवारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद उसी हॉस्टल के रहने वाले कुछ छात्रों ने पांच कमरों में आग लगा दी. विश्वविद्यालय प्रशासन की शिकायत पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है.