दिल्ली में गठबंधन पर कांग्रेस-AAP में फिर से चर्चा, हरियाणा पर भी बातचीत

1

दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के एक साथ मिलकर चुनाव लड़ने को लेकर कयासों का दौर जारी है. अब ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि गठबंधन को लेकर आधिकारिक तौर पर दोनों दलों के बीच बातचीत चल रही है. आम आदमी पार्टी (AAP) के सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस से आधिकारिक तौर पर चर्चा चल रही है.

सूत्रों का कहना है कि दिल्ली और हरियाणा में गठबंधन को लेकर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच चर्चा लगभग हो चुकी है. इन दोनों राज्यों में गठबंधन का मसला सुलझाए जाने के बाद पंजाब के संदर्भ में बातचीत की जाएगी. सूत्रों ने बताया कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने को लेकर दोनों दल सहमत हैं.

दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी में लोकसभा चुनाव गठबंधन में लड़ने को लेकर लंबे समय से कयासबाजी चल रही है. हालांकि एक अप्रैल को विशाखापत्तनम में अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि गठबंधन पर कांग्रेस से अब कोई बातचीत नहीं हो रही है क्योंकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इसके लिए पहले ही इनकार कर चुके हैं.

आम आदमी पार्टी के प्रमुख ने दिल्ली के लिए रवाना होने से पहले विशाखापत्तनम हवाई अड्डे पर यह बयान दिया था. केजरीवाल का कहना था कि कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं है. हमने राहुल गांधी के साथ एक बैठक की थी, जहां उन्होंने AAP के साथ गठबंधन करने से इनकार कर दिया था. कांग्रेस की दिल्ली इकाई की अध्यक्ष शीला दीक्षित के बयान कि AAP ने उनकी पार्टी से संपर्क नहीं किया’ पर उन्होंने कहा, “अगर हमने उनसे (राहुल) बात कर ली है तो किसी और से बात करने की कोई जरूरत नहीं है, किसी भी सूरत में, वह एक जूनियर लीडर हैं.”

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीली दीक्षित भी आम आदमी पार्टी से गठबंधन से इनकार कर चुकी हैं. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच इस खींचतान के बीच फिर से गठबंधन की बात कही जाने लगी है. दिल्ली में एक बार फिर आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन की चर्चा जोरों पर है. बताया जा रहा है कि दोनों के बीच आधिकारिक बातचीत हुई है. बातचीत में दिल्ली और हरियाणा में गठबंधन की बात हुई है, पंजाब पर बाद में चर्चा होगी. पूर्ण राज्य का मसला दोनों पार्टियों के लिए अहम है.

गठबंधन की रणनीति

आम आदमी पार्टी का तर्क है कि पूरे देश की सभी लोकसभा सीटों पर बीजेपी के खिलाफ केवल एक उम्मीदवार उतारा जाए, ताकि विपक्षी दलों के वोट न बंटे. दिल्ली में कांग्रेस के नेता भी आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन के मुद्दे पर बंटे हुए हैं. दीक्षित और अन्य नेता ने इसका विरोध किया है तो पार्टी का एक धड़ा AAP के साथ गठबंधन चाहता है. एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने दिल्ली में कांग्रेस-AAP के बीच गठबंधन कराने की कोशिश की थी.